breakup shayari in Hindi

breakup shayari in hindi –:मोहब्बत मे  जो मजा है सच मे देखा जाए तो वो मजा किसी और मे नही है ! किसी इंसान को अगर किसी से मोहब्बत हो जाए तो यूं कहो की उसकी खुशियों का ठिकाना नही रहता ! मोहब्बत मे मिलने वाले उस सुकून को आप चाह कर भी खरीद नही सकते ! पर इस मोहब्बत मे अगर break-up हो जाए तो,फिर दर्द का भी अंदाजा नही लगा सकते की उस इंसान को कितना तकलीफ होता है !

कुछ सच्ची मोहब्बत के दर्द को हम breakup shayari in hindi के माध्यम से एक खूबसूरत शब्दों मे बयान करेंगे !क्यूंकी ऐसे पल मे बिताए गए कुछ यादें कुछ सपने  ही हमारे साथ होते है ! जो दिल को बहुत ही तकलीफ़ें देते है हम जितना भी चाहे  उसे भूलाने के लिए वो उतना ही याद आता है !

हम इस तरह कुछ सच्ची मोहब्बत करने वालों के लिए कुछ shayari कुछ status लिखने जा रहे है जो दिल को कम से कम थोड़ी देर के लिए ही सही पर सुकून तो दे ! क्यूंकी ये शब्द ही समझिए आवाज है उनके दर्द को समझने के लिए !

break-up shayari

break-up shayari
break-up shayari

ना जाने ये मोहब्बत भी कितना अजीब था

कुछ पल को सुकून देने वाला वो क्या रकीब था

हम परेशान है की  उन्हे सजा दे भी तो आखिर

कैसे जो मेरे दिल के इतने करीब था !

 

na Jane ye mohabbat bhi Kitna ajeeb tha

kuch pal ko sukoon dene wala wo kya rakeeb tha

hum pareshan hai ki unhe saja de bhi to akhir

Kaise jo mere dil ke itne kareeb tha .

 

गुजरती थी वो सुहानी  रातें वो क्या जमाना था

सच तो ये है की एक दर्द को मुझ पर आजमाना था

जिस मोहब्बत मे हम सब कुछ तुम पर लूटा बैठे

उसपर शक करके दूर होना…  ये अच्छा बहाना था !

 

gujarti thi wo suhani raten wo kya jamana tha

sach to ye Hai ki ek dard ko mujh par ajmana tha

jis mohabbt me hum sab kuch tum par luta baithe

uspar shak karke door hona .. ye achchha bahana tha .

 

समझ मुझे आज आया की ये इश्क भी मुझसे  खफा था

जिसको हमने अपना समझा वो इश्क भी मुझसे वफा था

जिस इश्क़ की गहराई  मे मुझे कुछ सुकून नजर आता था

वो इश्क भी वर्षों पहले ही  मुझसे दगा कर रखा था !

 

samjh mujhe aaj aaya ki ye ishq bhi mujhse khafa tha

jisko hamne apna samjha wo ishq bhi mujhse wafa tha

jis ishq ki gahraion me mujhe kuch sukoon najar aata tha

wo ishk bhi warson pahle hi mujhse daga kar rkaha tha .

 

बहुत वक्त लग गया तेरा असली चेहरा नजर आने मे

दुख बस  इतना है की सदियों लगा दिया तुझे पाने मे

एक बस तुझसे ही हमें फरेब की उम्मीद ना थी पर

किस्मत तो देखो तुमने  भी नही छोड़ा दिल दुखाने मे !

 

bahut wakt lag Gaya Tera asli chehra najar aane me

dukh bas itna hai ki sadiyon laga diya tujhe pane me

ek bas tujhse hi hamen fareb ki ummeed na thi par

kismat to dekho tumne bhi nhi chhoda dil dukhane me .

break-up status

breakup status
breakup status

मैंने हजारों कोशिश किया तुझे अपना बनाने मे

चलो याद ही रहेगा कोई दगा देने वाला भी था  किसी जमाने मे !

 

Maine hajaron koshish Kiya tujhe apna banane me

chalo yaad hi rahega koi daga dene wala bhi  tha kisi jamane me .

 

तू एक बार ये तो बोल दिया होता की वो मेरा अपना था

कसम से मै भी खुद को समझा लेता वो गुजरा हुआ

हर लम्हा मेरा नींद देखा एक सपना था !

 

tu ek baar ye to bol diya hota ki wo mera apna tha

kasam se mai bhi khud ko samjha leta wo Gujra Hua

har lamha mera neend me dekha ek Sapna tha .

 

जो वफा का अंजाम तूने लगाया कुछ

खबर तो ले लिया होता मेरे दिल की

छोडकर यूं ही चला गया एक बार कम से कम बता तो दिया होता

तुझे तलाश है एक नए महफिल की !

 

jo wafa ka anjam tune lagaya kuch

khabar to le liya hota mere dil ki

chhodkar Yun hi chala Gaya ek baar kam se kam bata diya hota

tujhe talash hai ek naye mahfil ki .

 

जा रहे हो मुझसे अलग होकर तो जाओ खुशी से

तुझे तो एक नया आसियाना मिल गया पर मेरा

क्या मुझे तो आज भी एक आशियाने की ही तलाश है !

 

ja rhe ho mujhse alag hokar to jao Khushi se

tujhe to ek naya asiyana mil gya par mera

kya mujhe to aaj bhi ek ashiyane ki hi talash hai .

 

याद है वो पल तेरा यूं कहना की तू किसी और की नही तू सिर्फ मेरा है

और मै भी चिराग कि तरह तुझे प्रकाश देता रहा और आज खुद के पास अंधेरा है !

 

yaad hai wo pal Tera Yun Kahna ki tu kisi aur ki nhi tu sirf mera hai

aur mai bhi Chirag ki tarh tujhe prakash deta rha aur aaj khud ke pass andhera hai .

 

हजारों बात  थी मेरे जहन मे हजारों याद.. था

पर जिस याद मे तुम थी वो मेरा खुदा से फरियाद था !

 

hajaron baat thi  mere Jahan me  hajaron yaad tha

par jis yaad me tum thi wo mera khuda se fariyad tha .

 

जल्द ही आऊँगा मै तुझे याद जरा कुछ वक्त तो गुजर जाने दो !

अभी तो हुस्न मे हो पागल कभी तन्हाइयों को तो दिल पर उतर आने दो !

 

jald hi aunga mai tujhe yaad jara kuch wakt to gujar jaane do

Abhi to hushn me ho pagal kabhi tanhaiyon ko to dil par utar aane do .

dard shayari

dard shayari
dard shayari

माना हमने मोहब्बत मे बहुत कुछ खो कर तुझे पाया था पर

समझा तो लिया था उसी वक्त दिल को जब तेरी आँखों मे कोई और  नजर आया था !

 

mana hamne mohabbat me bahut kuch kho kar tujhe paya tha par

samjha to liya tha usi wakt dil ko jab Teri ankhon me koi aur najar aya tha .

 

एक बिखरी हुई मोहब्बत मे  कोई नाज नही होता

एक बिखरी हुई मोहब्बत मे कोई राज नही होता

वो तो शुक्र है  खुदा का इन आँसूओ मे की जब गिरता है

किसी की आँखों से तो इनमे कोई आवाज नही होता !

 

ek bikhri hui mohabbt me koi naaj nhi hota

ek bikhri hui mohabbt me koi raj nhi hota

wo to shura hai khuda ka in ansuon me ki jab girta hai

kisi ki ankhon se to inme koi awaz nhi hota .

 

मोहब्बत का भी एक अजीब  फसाना है कल जी

रहे थे उसके लिए और आज पी रहे हे उसके लिए !

 

mohabbat ka bhi ek ajeeb fasana hai kal jee

rhe the uske liye aur aaj pee rhe hai uske liye

 

इतनी जल्दी छोड़ गई तू मुझे कैसे कहूँ तूझमे जज़्बात नही

धोखा देने मे तू इतनी माहिर है कैसे कहूँ तूझमे कोई बात नही !

 

itni jaldi chhod gai tu mujhe kaise kahun tujhme koi jajbaat nhi

dhokha dene me tu itni  mahir hai kaise kahun tujhme koi baat nhi .

 

 क्या गज़ब की कहानी है ये इश्क़ मे हम खुद को लुटाये बैठे है

और किसी को जरा सा भी वक्त नही मिलता !

 

kya gajab ki Kahani hai ye ishq me hum khud ko lutaye baithe hai

aur kisi ko jara sa bhi wakt nhi milta .

 

माना कुछ दूरियाँ है तुझसे पर तेरी यादों मे

तो  वक्त आज भी गुजरता है !

 

mana kuch duriyan hai tujhse par Teri Yadon me

to wakt aaj bhi Gujarta hai .

 

ये जरूरी नही की हर दर्द की दास्तां जुबान

से ही बयान किया जाए कुछ दर्द ऐसे भी होते है

जो आँखों मे नजर आता है !

 

ye jaruri nhi ki har  dard ki dastan juban

se hi bayan Kiya Jaye kuch dard aise bhi hote hai

jo ankhon me najar aata hai

 

मेरी मोहब्बत रेत मे लिखी उस लिखावट जैसी नही थी

की लहर जैसे ही आए सब मिटा कर रख दे !

 

meri mohabbat ret me likhi us likhawat jaisi nhi thi

ki lahar jaise hi aaye sab mite Kar rakh de .

 

यूं शौक नही है मुझसे फना रहने का

पर क्या करूँ खेल ही तूने ऐसा खेला

की आदत हो गई है अब तन्हा रहने का !

 

Yun shauk nhi hai mujhe fana rahne ka

par kya karun khel hi tune aisa khela

ki adat ho gai hai ab Tanha rahne ka .

 

मुझे पूरी उम्मीद है आप सब से की ये sepcially आप सब के लिए लिखा गया ये breakup shayari in hindi  आप सब को बेहद ही पसंद आया होगा क्यूंकी ये सब हर सख्स की जिंदगी मे अक्सर चलता रहता है ! आप और भी इसी तरह की शायरी अगर पढ़ना चाहते है तो https://sadloveshayari.com/breakup-shayari/ को भी एक क्लिक के साथ पढ़ सकते है !

Leave a Reply

%d bloggers like this: